बदलते मौसम में सूखी खांसी राहत पाने के लिए घरेलू उपाय - Hindi Tricks

2021-04-19

बदलते मौसम में सूखी खांसी राहत पाने के लिए घरेलू उपाय

 

सूखी खांसी के लिए घरेलू उपाय
खांसी के घरेलू उपाय

सूखी खांसी भी कोरोना महामारी में तनाव का कारण बनती है। इससे राहत पाने के लिए आप इन कुछ घरेलू उपायों को आजमा सकते हैं।

बदलते मौसम में सूखी खांसी राहत पाने के लिए आज ही शुरू करें ये घरेलू उपाय


यदि बदलते मौसम के दौरान आपको हल्की खांसी होती है, तो आपको विशेष उपाय करने की आवश्यकता है। सूखी खांसी भी कोरोना महामारी के कई लक्षणों में से एक है, इसलिए आज इन घरेलू उपचारों से राहत पाएं।

सूखी खांसी में अदरक फायदेमंद है


अदरक को खांसी को कम करने और राहत देने के लिए कहा जाता है। इसी वजह से लोग अदरक की चाय पीना पसंद करते हैं और शहद के साथ अदरक की चाय पीना ज्यादा फायदेमंद है। ध्यान रखें कि बहुत अधिक चाय पेट खराब कर सकती है।

सूखी खांसी में शहद फायदेमंद है


शहद खांसी के लिए एक ताबीज है। इसका एंटीऑक्सीडेंट तत्व खांसी से लड़ने में मदद करता है। इसके अलावा यह गले की खराश को भी कम करता है। इसके लिए हर्बल टी या नींबू के पानी को शहद के साथ मिलाकर दिन में दो बार पीना फायदेमंद है।

सूखी खांसी में पुदीना फायदेमंद है


सूखी खांसी के मामले में पुदीना भी फायदेमंद है, इसमें मेन्थॉल यौगिक होता है जो गले में खराश से राहत देता है। गले की खराश और दर्द को भी कम करता है। पेपरमिंट को दिन में 2-3 बार लेने से खांसी की समस्या खत्म हो जाती है।

सूखी खांसी में नमक के पानी से कुल्ला करें


सूखी खांसी का इलाज गर्म पानी में नमक को भंग करना और इसके साथ कुल्ला करना है। यह गले में खराश से राहत देता है। साथ ही फेफड़ों में जमा कफ भी कम हो जाता है। नमक के पानी से कुल्ला करने से भी गले में टॉन्सिल्स में राहत मिलती है।

सूखी खांसी में नीलगिरी का तेल भी फायदेमंद है


नीलगिरी का तेल श्वसन तंत्र को साफ करता है। नारियल या जैतून के तेल में नीलगिरी की बूंदें मिलाएं और छाती पर मालिश करें। इसके अलावा अगर आप उस भाप को लेना चाहते हैं तो आप एक कटोरी गर्म पानी में नीलगिरी के तेल की बूंदें मिलाएं और घूंट लें। इससे छाती को आराम मिलेगा और सांस लेने में आसानी होगी।


Comment