माँ दुर्गा सप्तशती के मंत्रों का जाप कैसे करें, जाने दुर्गा सप्तशती पाठ के नियम - Hindi Tricks

2021-04-16

माँ दुर्गा सप्तशती के मंत्रों का जाप कैसे करें, जाने दुर्गा सप्तशती पाठ के नियम

 

दुर्गा सप्तशती पाठ के लाभ
दुर्गा सप्तशती पाठ नियम

वर्तमान में, चैत्र नवरात्रि का पवित्र त्योहार चल रहा है। आज नवरात्रि का चौथा दिन है। नवरात्रि का पवित्र त्योहार नौ दिनों तक मनाया जाता है। इस समय माता के नौ रूपों की पूजा की जाती है।

नवरात्रि के समय दुर्गा सप्तशती का पाठ


इसका भी विशेष महत्व है। इस समय संपूर्ण दुर्गा सप्तशती का पाठ करने से माता की विशेष कृपा प्राप्त होती है। यदि आप पूरी दुर्गा सप्तशती का पाठ भी नहीं कर सकते हैं तो कुछ मंत्रों का जाप करें।

यहां बताए गए कुछ मंत्रों का जाप करने से माँ दुर्गा सप्तशती आशीर्वाद प्राप्त करें

सर्वमंगल मंगलमयं श्रव्वर्थ साधिके

शरणाय त्र्यम्बक गौरी नारायणी नमोस्तुते

आरोग्य और सौभाग्य प्राप्ति का मंत्र

देहि सौभ्यगैरोग्य देहि परमं सुखम्


रूप देहि जे देहि यशो देहि देविषो जहि

रक्षा के लिए मंत्र

शुलें पाहि न देवि पाहि खड्गेन चम्बिके


घण्टासवनेन नः पापि चपज्यनिः स्वानां च

रोग ठीक करने का मंत्र


रोगनाशपन्हंसी त्वष्टा रूस्त ता कामन सकलाभिश्तन

त्वामाश्रिता न विपन्राणां टीवीमाश्रिता हिरण्यश्रेता प्रयाति

प्रतिकूलता और शुभता पर काबू पाने का मंत्र

करोतु सा न: शुभार्थीश्वरी

शुभानि भद्राण्यभिहंत चापद:

शक्ति स्तोत्र मंत्र


सृष्टि के विनाश की शक्ति से सनातनी

गुनश्रेय गुनमये नारायणी नमोस्तु ते 


Comment